Business

All indicators pointing towards sharp economic recovery: Piyush Goyal | Economy News

[ad_1]

नई दिल्ली: वाणिज्य और उद्योग मंत्री पीयूष गोयल ने गुरुवार को कहा कि सकल घरेलू उत्पाद, प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (एफडीआई) प्रवाह और निर्यात वृद्धि सहित सभी संकेतक देश में स्पष्ट और तेज आर्थिक सुधार की ओर इशारा कर रहे हैं।

उन्होंने कहा कि विदेशी मुद्रा भंडार सितंबर 2019 में 433 अरब अमेरिकी डॉलर से बढ़कर इस साल सितंबर में 638 अरब अमेरिकी डॉलर हो गया है, जबकि चालू वित्त वर्ष के पहले चार महीनों में एफडीआई प्रवाह 62 फीसदी बढ़ा है, जो पिछले साल के इसी आंकड़े से अधिक है। .

CERAWeek द्वारा इंडिया एनर्जी फोरम में उन्होंने कहा, “हम सभी आर्थिक संकेतकों से प्रोत्साहित होते हैं, जो बहुत स्पष्ट और तेज आर्थिक सुधार की ओर इशारा करते हैं। पहली तिमाही में जीडीपी में रिकॉर्ड 20.1 प्रतिशत की वृद्धि हुई है।” यहां।

गोयल ने आगे कहा कि सरकार ने स्वत: मार्ग से 100 प्रतिशत एफडीआई के साथ नवीकरणीय ऊर्जा क्षेत्र में विकास और निवेश को प्रोत्साहित करने के लिए कई कदम उठाए हैं।

मंत्री ने कहा कि भारत का अक्षय ऊर्जा कार्यक्रम दुनिया में सबसे बड़ा है और देश में 30 सितंबर, 2021 तक 101 गीगावाट अक्षय ऊर्जा क्षमता है। यह भी पढ़ें: आईआरसीटीसी शिमला, मनाली पैकेज: भारतीय रेलवे के साथ हिमाचल प्रदेश की यात्रा करें, किराया, यात्रा कार्यक्रम देखें

गोयल ने कहा, “हम 2022 के अंत तक 175 गीगावाट के अपने प्रारंभिक लक्ष्य की ओर लक्ष्य कर रहे हैं,” भारत 2030 तक गैर-जीवाश्म ईंधन आधारित ऊर्जा संसाधनों से 40 प्रतिशत संचयी बिजली क्षमता हासिल कर लेगा। यह भी पढ़ें: चालू वित्त वर्ष के दौरान जारी किए गए 92,961 करोड़ रुपये के आयकर रिफंड: सीबीडीटी

.

[ad_2]

Source link

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button