Religion

Dhanteras 2021: कब है धनतेरस? जानिए पूजन और खरीदारी का शुभ मुहूर्त

[ad_1]

<पी शैली ="टेक्स्ट-एलाइन: जस्टिफाई;">धनतेरस 2021: धनतेरस पर वाहन, घर, संपत्ति, सोना, चांदी, कल्कि, धनिया, झाड़ू आदि का महत्व है। सभी शुभचिंतकों ने शुभारम्भ किया। बार बार धनतेरस की छुट्टियां 2 नवंबर 2021 का है। इस दिन प्रदोष काल शाम 5:37 से शाम 8: 11 बजे तक, सायं 8.14 तक. ऐसे में धनतेरस पर शुभ मुहूर्त शाम 6.18 बजे से 8.11 बजे तक.

घर का मुहूर्त 
त्रिपुष्कर योग: सुबह 06:06 11:31 तक। इस काल में शुभाते।
शुभावर्त : 06 बजकर 18 और 22 से 08 भी 11 और 20 सेकंड तक का मुहूर्त, इस काल में पूजा के दौरान।
सुबह का समय: 11 :42 से सुबह 12:26 तक। यह मुहूर्त के लिए यह शुभ है।
विजय मुहूर्त: सुबह 01:33 से 02:18 तक

शाम और शाम के मुहूर्त :
गोधूलि मुहूर्त : शाम 05:05 से 05:29 तक
प्रसाद काल: 5:35 और 38 सेकंड से 08 बजकर 11 और 20 सेकेंड से ज्यू. इस काल में पूजा की जा सकती है।

धनतेरस मुहूर्त शाम 06:18:22 से 08:11:20 तक। इस अवधि में पूजा और अर्पण हो सकता है।
वृषभ काल– शाम 06:18 से 08:14: तक
निशिता मुहूर्त- रा‍त्र‍मैं 11:16 से 12:07 तक

दिन का चौघड़िया 
लाभ- प्रात: 10:43 से 12:04 तक
अमृत- सुबह 12:04 से 01:26 तक
शुभ- सुबह 02 :47 से 04:09 तक

रात का चौघड़िया :
लाभ- 07:09 से 08:48 तक।
शुभ- 10:26 से 12:05 तक।
अमृत- 12: 05 से 01:43 तक

इन भी आगे :

<एक शीर्षक="करवा चौथ 2021: अगर करवा चौथ पर नया चांद तो महिला करें ये काम" href="https://www.abplive.com/lifestyle/religion/karwa-chauth-2021-if-the-moon-is-not-visible-then-women- should-do-this-work-1986373" लक्ष्य =""> करवा चौथ 2021: अगर करवा चौथ पर न चांद चांद

<एक शीर्षक="महिमा शनि देव की: शनि से शुक्राचार्य ने किया, पृथ्वी पर पृथ्वी पर ने देखा था" href="https://www.abplive.com/lifestyle/religion/mahima-shani-dev-ki-shukracharya-revealed-to-shani-dev-the-secret-of-the-attack-of-demons-on-earth- 1986019" लक्ष्य ="">महिमा शनि देव की: शनिदेव से शुक्राचार्य ने देखा, पृथ्वी पर इंद्र ने भेजा था हमला

 



[ad_2]

Source link

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button