Religion

Karwa Chauth 2021Auspicious Yoga Is Being Made After Five Years On Karva Chauth

[ad_1]

करवा चौथ 2021: विवाहिता के मंगल ग्रह की तारीख 24 अक्टूबर तिथि है. खास बात यह है कि पांच साल बाद इस करवा चौथ पर शुभ योग बन रहा है। करवा चौथ पर बार रोहिणी में मतदान होने से लेकर सूर्यदेव का भी। विशेष पर सुहागिनों के इस अखंड सौभाग्य से। चौथ के दिन मां पार्वती, करवा शिव, कार्तिकेय और गणेश सहित शिव परिवार का पुर्नोत्थान। मां पार्वती से सुहागिनें अखंड की सुहागिनें हैं। ️ दिन️️️️️️️ सूर्योदय से चंद्रोदय तक निजला व्रत चंद्र दर्शन के बाद जल्द ही।

करवा चौथ

करवा चौथ व्रत के लिए पोस्ट करने वाला पोस्ट पोस्ट वाला व्यक्ति है। इस समय बैठने की स्थिति में बैठने के लिए इस तरह के सामान की सूची से इस सूची की सूची का मिलान करने की आवश्यकता होती है। मिट्टी का करवा, कवर, लोटा, गंगाजल, काली या पीली मिट्टी, करवा दूध, दही, देसी, अगरबत्ती, रुई, दीपक, अक्षत, पुष्प, चंदन, रोली, हरी मिर्च, कुम, मिठाई, पंच, धुरंधा के लिए, आसन, स्थिर, पान, खड़ी सुपारी, प्रमृत, चाल, महावर, फॉर, बीड़ी, सिंदूर, चूड़ी, कंचनरी की मिक्स्ड है।

पूजा का मुहूर्त

हिंद पंचांग 24 2021 दिन 03 बजकर 01 पर शुरू होगा, जो 25 तारीख को दिनांक: काल 05 बजकर 43 पर समाप्त होगा। चंद्रा चतुर्थी में चंद्रा चतुर्थी मुहूर्त 24. पूजा के लिए शुभ मुहूर्त 24 अक्टूबर 2021 को शाम 06:55 से 08:51 तक। चंद्रोदय का समय 8 बजकर 11 बजे, अलग-अलग-अलग अलग-अलग समय में अंतर आवर्त होता है।

आगे भी-

करवा चौथ 2021: अगर करवा चौथ पर नया चांद तो महिला करें ये काम

महिमा शनि देव की: शनि से शुक्राचार्य ने किया, पृथ्वी पर पृथ्वी पर ने देखा था

.

[ad_2]

Source link

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button